Hide Button

सैमी टिपिट सेवकाई निम्‍नलिखित भाषाओं मे आपको यह विषय प्रदान करती है:

English  |  中文  |  فارسی(Farsi)  |  हिन्दी(Hindi)

Português  |  ਪੰਜਾਬੀ(Punjabi)  |  Român

Русский  |  Español  |  தமிழ்(Tamil)  |  اردو(Urdu)

news

भारत – बडी भीड़ – जागृति को महान प्रतिउत्तर

सैमी टिपिट सेवकाई ने हालही में पंजाब के उत्तरी पश्चिम भाग में सुसमाचार प्रचार, पास्टर्स कॉन्फरन्स और विद्यार्थियों को चलने बनाने के लिए सभाओं का आयोजन किया था. सैमी टिपिट ने सुसमाचार की सभा में और पास्टर्स कॉनफरन्स में सिखाया जब कि देव टिपिट ने इटरनल कॉन्सेप्ट के द्वारा विद्यार्थियों की सेवा की.

IndiaCrowd इस क्षेत्र में ये सैमी टिपिट की सबसे बडी सुसमाचार की सभा थी.हर शाम लोगों ने उनके विजय के संदेश को प्रतिउत्तर दिया. हर रात लोगों की भीड़ बढती गई, और संदेश के लिए लोगों का प्रतिउत्तर भी बढ़ता गया. आखरी रात उपस्थित लोगों में से लगभग आधे लोगों ने संदेश को प्रतिउत्तर दिया.

टिपिट ने गौर किया, “पंजाब में परमेश्वर ने उनके लिए कुछ महान काम किए हैं. लोग खुले हैं. वो सुसमाचार को प्रतिउत्तर दे रहे हैं. पंजाब में बहुत से सीख लोगो ने सुसमाचार को प्रतिउत्तर दिया. परमेश्वर को ऐसे काम करते देखना बहुत ही अद्भुत था.” पास्टर नाज़िर मसीह ने सहमत होते हुए ये कहा, “पंजाब के लोग यीशु के सुसमाचार के लिए भूखें हैं. ये समय हमारे लिए बहुत ही आशीष का समय था.”

टिपिट ने केवल सुसमाचार की सभाओं का आयोजन किया था, लेकिन साथ ही उन्होंने पंजाब के भीतरी क्षेत्र में पास्टर्स कॉन्फरन्स का भी आयोजन किया था, जहाँ के पास्टर्स को ऐसी अगुवों सभाओं में आने का मौका भी नही मिलता है. बहुत से पास्टर्स नए विश्वासी हैं, जो टिपिट के अनुवादक “जॉली” सिंग से सीख रहे थे. पास्टर्स ने अपने जीवन में परमेश्वर के गहरे काम के बारे में गवाही दी थी. चर्च बहुतायत से बढ़ता गया – कुछ लोग इसे बहुगुणित होते देखकर चकित हो गएं. बहुत से पास्टर्स जो इन सभों में आएं थे वो मसीह में बिलकुल नएं थे.

पंजाब में पहले की टिपिट की यात्रा में उद्धार पाएं लोगों से टिपिट ने मुलाकात की. उन्होंने कहा, “सबसे बड़ा आनंद यही है कि ऐसे बिश्वसियों से मुलाकात करें जो मसीह के साथ निरंतर चल रहे हैं.”

डेव टिपिट ने पंजाब में सेवकाई की, चंडीगढ़ के विद्यार्थियों में उन्होंने अपना जीवन उंडेल दिया. इटरनल कॉन्सेप्ट द्वारा किए गएं सेमिनार में ६५ से भी ज्यादा विद्यार्थी उपस्थित थे. पूरे संसार में होने वाले आउट रीच में ई टी, एस टी एम् के साथ मिलकर काम कर रही है. जवान लोगों ने परमेश्वर के गहरे काम की गवाही भी दी हैं.

और तस्वीर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें.