Hide Button

सैमी टिपिट सेवकाई निम्‍नलिखित भाषाओं मे आपको यह विषय प्रदान करती है:

English  |  中文  |  فارسی(Farsi)  |  हिन्दी(Hindi)

Português  |  ਪੰਜਾਬੀ(Punjabi)  |  Român

Русский  |  Español  |  தமிழ்(Tamil)  |  اردو(Urdu)

news

ब्रज़ील में फसल - २०१२

BrazilFriendsइन्पेरात्रिज़ में फसल की कटनी

इन्पेरात्रिज़ ब्रज़ील के विश्वासियों के लिए एल विशेष पल था. फसल का समय था. परमेश्वर की आत्मा का चलन. मई महीने में हुई सैमी टीपीट की सेवकाई के विवरण के लिए इस सारे शब्दों का उपयोग किया जाता है. टीपीट ने दो रात भी सभाओं में प्रचार किया और ये जगह ऐसे लोगों से भरी थी जिनके दिल जीवन की रोटी का स्रोत पाने के लिए भूखे थे.

इन्पेरात्रिज़ में टीपीट ने केवल सुसमाचार की सभाओं का ही आयोजन नही किया, लेकिन साथ ही अलागोस राज्य की राजधानी मोरोको में भी सभाएं की. सैकडों लोगों ने टीपीट के संदेश को प्रतिउत्तर दिया, और मसीह के लिए जीवन बदलनेवाला निर्णय लिया. चर्च के अगुवों ने टीपीट से अगले साल फिर आने का निवेदन किया. एस टी एम ने चर्च की मदत की ताकि किराए की बस में लोगों को मीटिंग में लाया जा सकें. बहुत से विश्वासी चर्च में ही प्रार्थना करते हुए रुके रहे जब कि उनके दोस्त और परिवारवाले जिन्हें मसीह की जरूरत थी वो बस में चढकर उस जगह पहुँचे. बस से आनेवाले बहुत से लोगों ने अपना जीवन मसीह को दिया. सलाहकार सही तरह से बस में बैठाए गए थे कि ताकि जिन लोगों ने मसीह को स्वीकार किया है उन्हें जिस जगह से लाया गया और उसी जगह पर पहुचाएं जाने तक उनकी सेवा कर सकें. हालाँकि चर्च अगुवोने बड़ी फसल की सराहना कर रहे थे, तोभी ये उनकी कल्पना से बहुत बढ़कर था.

सुसमाचार प्रचारक सेवकाई के लिए ट्रेन किए गएं और बहुत गुणित किए गए

एक साल पहले पूरे ब्रज़ील से १२ सुसमाचार प्रचारक सैमी टीपीट के साथ गोय्ना, ब्रज़ील में इकट्ठे हुए थे. उदेश था कि सुसमाचार प्रचारक की नई पीड़ी तैयार करें जो इस दर्शन को आगे ले जाएँ, अपने लोगों को कार्यनीति और सुसमाचार का संदेश दे सकें. टीपीट ने प्रचारकों को आत्मिक और पारिवारिक जीवन के बारे में बताया. ये कहते हुए उन्होंने बताया कि वो ऐसे प्रचारकों कि पीड़ी देखना चाहते हैं जिनका दिल प्रभु के लिए है और उनकी प्राथमिकता सही हैं.

अमेरिकन प्रचारक ने ब्रज़ील के प्रचारकों को सुसमाचार प्रचार के सिद्धांत और कार्यनीति सिखाई. हर ब्रजीली ब्यक्ति ने समर्पण किया कि आनेवाले साल में वो इस सिद्धांत का अनुकरण करेंगे. ब्रज़ील की इस यात्रा में टीपीट ने कुछ प्रचारकों से भी मुलाकात की और रोमांचित हुए कि “मल्टीप्लाय इवेंज्लिज्म” मीटिंग के द्वारा उन्होंने जो सिखा था उसके द्वारा कैसे सुसमाचार प्रचार होता गया है.

BrazilFriends फेब्रिकोयो फ्रेइतास, जो एक बड़े मेमोरियल बैप्टिस्ट चर्च के मिशन और प्रचार के पास्टर हैं, ने पिछले साल टीपीट ने दिया हुआ दर्शन पकड़ लिया. मसीह के लिए उस राजधानी तक पहुचने की इस योजना में उन्होंने ९४ चर्च को शामिल होने के लिए नियुक्त किया. पास्टर फ्रेइतास के पास १००० से भी ज्यादा लोग हैं जिन्होंने खुद को समर्पित किया कि अगले तीन महीने तक वो ५ लोगों के लिए निरंतर प्रार्थना करते रहेंगे. उन्हें ट्रेन किया गया कि अपनी गवाही दें और जून महीने के दौरान उन लोगों को सुसमाचार प्रचार करें. इन ९४ चर्च में जुलाई महीने के अंत में सुसमाचार की सभा का आयोजन किया जाएगा. ये प्रार्थना कर रहे हैं कि हजारों लोग मसीह के पास आएं.

पास्टर फ्रेइतास ने देश के अगुवों के साथ दर्शन और कार्यनीति बांटी. उनकी आशा है कि जो ट्रेनिंग उन्होंने एस टी एम से पाई है, वो जल्द ही देश की कार्यनीति हो जाएगी.

अलागॉस राज्य के एक और प्रचारक भी ये कार्यनीति एक छोटे नगर में ले गएं. उन्होंने ऑपरेशन एनड्रिव में लोगों को ट्रेन किया, ऐसे ५ दोस्त, सहकर्मी, या परिवार के लोगों के लिए प्रार्थना करना जिन्हें मसीह की जरूरत है. फिर उन्होंने चर्च को प्रचार के आउटरीच प्रोग्राम में जोड़ा, जिस में “जीजस मार्च” भी शामिल है, और प्रचार की सभा हुई जिस में उन्होंने प्रचार किया. बहुत से लोग मसीह के पास आएं.

सन २०१३ में प्रचारकों को ट्रेन करने के लिए योजनाएं बनाई जा रही हैं. जिन लोगों ने अपनी ट्रेनिंग पूरी की हैं वो ट्रेनिंग के अगले चरण में जाएगें. साथ ही, प्रचारकों को समूह में जोड़ा जाएगा. टीपीट ने कहा, “प्रभु इन प्रचारकों के द्वारा जो कर रहा है उसे देखकर मै भी बहुत रोमांचित हूँ. परमेश्वर ये दर्शन पूरा करने के लिए विश्वसयोग्य है. ब्रज़ील और भारत में जो प्रचारक ट्रेन किए गएं हैं और इन गर्मियों में जो प्रचारक अफ्रीका में टेन किए जाएगे उनके लिए प्रार्थना करते रहें.”

और तस्वीर देखने के लिए यहाँ क्लिक करें.